Sankhya Vachak Visheshan Kise Kahate Hain – संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Sankhya Vachak Visheshan In Hindi – आज हम यहां पर Sankhya Vachak Visheshan के बारे में पढ़ने वाले हैं Sankhya Vachak Visheshan Kise Kahate Hain, Sankhya Vachak Visheshan के कितने भेद होते हैं और संख्यावाचक विशेषण की पहचान कैसे कर सकते हैं। यहां पर संख्या वाचक विशेषण के ऊपर सभी जानकारी सरल शब्दों में प्रदान की गई है। 

Definition Of Sankhya Vachak Visheshan In Hindi –  संख्यावाचक विशेषण परिभाषा

जब किसी वाक्य में संज्ञा और सर्वनाम की निश्चित और अनिश्चित संख्या, गिनती के बोध कराने वाले शब्द को संख्या वाचक विशेषण कहते हैं। 

संख्यावाचक विशेषण में हमें गिनती, गणना, कर्म आदि का बोध होता है और जब कोई वाक्य किसी संख्या का बोध करवाए तो उसे ही Sankhya Vachak Visheshan कहा जाता है। 

संख्यावाचक विशेषण के वाक्य में आप देखेंगे की किसी गिनती, गणना का बोध पढ़ने को मिलता है जो Sankhya Vachak Visheshan की पहचान करवाते हैं। 

Types Of Sankhya Vachak Visheshan In Hindi – संख्यावाचक विशेषण के भेद 

संख्यावाचक विशेषण के दो भेद होते हैं :

  • निश्चित संख्यावाचक विशेषण
  • अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण

निश्चित संख्यावाचक विशेषण : जब किसी वाक्य में संज्ञा और सर्वनाम के शब्दों में किसी भी निश्चित संख्या का बोध किया जाए उसे निश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं। 

इस विशेषण के अंतर्गत कोई क्रम, गणना या गिनती सीधे तौर पर बताई जाती है जिसे निश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं। 

उदाहरण के लिए :

  • रोहन के पास दो सेब है
  • मुझे आज दो कार की डिलीवरी देनी है
  • मुझे घर पहुंचने के लिए एक साइकिल चाहिए
  • दिसंबर का महीना 31 दिन का होता है
  • 2 अक्टूबर को गांधी जयंती है। 

निश्चित संख्यावाचक विशेषण के भेद

पूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक
अपूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक
क्रमवाचक निश्चित संख्यावाचक
आव्रितिवाचक निश्चित संख्यावाचक
समूहवाचक निश्चित संख्यावाचक
प्रत्येकबोधक निश्चित संख्यावाचक

अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण : विशेषण के वह वाक्य जिसमें किसी संख्या का कोई निश्चित बोध नहीं करवाया जाता, उसमें संख्या नहीं बताई जाती किसी गिनती को नहीं दर्शाया जाता उसे अनिश्चित संख्यावाचक विशेषण कहते हैं,

क्योंकि इसमें किसी भी संख्या का नाम नहीं लिया जाता केवल अंदाजा लगाया जाता है उदाहरण के लिए

  • मुझे कुछ समय के लिए तुम्हारा मोबाइल चाहिए
  • मोहन को स्कूल में बांटने के लिए कई सारी टॉफी चाहिए। 
  • मैं आज ऑफिस कई दिनों बाद जाऊंगा
  • काफी समय से दादा हमारे घर नहीं आए 

Examples Of Sankhya Vachak Visheshan In Hindi – संख्यावाचक विशेषण के उदाहरण

  • मेरे पास पांच पेंसिल है। 
  • मैं कुछ महीनो के लिए गांव जा रहा हूं
  • मुझे मोटरसाइकिल के लिए थोड़ा तेल चाहिए। 
  • मम्मी दो कप चाय बना दो
  • मोहन को 6 बजे उठकर व्यायाम करना चाहिए
  • अभी रात के 12 बज रहे हैं
  • मैं शहर से बहुत दूर जाना चाहता हूं। 

Conclusion : संज्ञा सर्वनाम के वह वाक्य जिसमें किसी संख्या, गणना क्रम का बोध होता है वह संख्यावाचक विशेषण के अंतर्गत आते हैं यहां पर आप संख्या वाचक विशेषण से जुड़े हुए सभी जानकारी जैसे Sankhya Vachak Visheshan की परिभाषा, भेद और नियम जान सकते हैं। 

FAQs About Sankhya Vachak Visheshan In Hindi

Q1. संख्यावाचक विशेषण क्या होते हैं ?

Ans : जब किसी वाक्य में किसी संख्या का बोध या गिनती का बोध होता है तो उसे संख्यावाचक विशेषण कहते हैं। 

Q2. संख्यावाचक विशेषण कितने प्रकार के होते हैं

Ans : संख्यावाचक विशेषण दो प्रकार के होते हैं :

  • निश्चित संख्यावाचक विशेषण
  • और निश्चित संख्यावाचक विशेषण

Q3. निश्चित संख्यावाचक कितने प्रकार के होते हैं ?

Ans : निश्चित संख्या 6 प्रकार के होते हैं :

  • पूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक
  • अपूर्णसंख्याबोधक निश्चित संख्यावाचक
  • क्रमवाचक निश्चित संख्यावाचक
  • आव्रितिवाचक निश्चित संख्यावाचक
  • समूहवाचक निश्चित संख्यावाचक
  • प्रत्येकबोधक निश्चित संख्यावाचक

Leave a Comment