Dravyvachak Sangya Kise Kahate Hain – द्रव्यवाचक संज्ञा की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Dravyvachak Sangya In Hindi – आज हम यहां पर संज्ञा के आखिरी भेद यानी कि Dravyvachak Sangya के बारे में जानकारी देने वाले हैं Dravyvachak Sangya Kise Kahate Hain, Dravyvachak Sangya के कितने भेद होते हैं और उनकी पहचान कैसे कर सकते हैं। चलिए इस पेज Dravyvachak Sangya In Hindi पर जानते हैं

Definition Of Dravyvachak Sangya In Hindi – द्रव्यवाचक संज्ञा परिभाषा

संज्ञा के वह शब्द जिसमे कोई ठोस पदार्थ, तरल पदार्थ, धातु, अधातु या द्रव पदार्थ का बोध होता है उसे द्रव्य वाचक संज्ञा कहते हैं। द्रव वाचक संज्ञा में पदार्थों की गिनती नहीं हो सकती इसलिए यह अगनीय भी होते हैं इन्हें केवल मापा जा सकता है। 

अर्थात हम सरल शब्दों में कह सकते हैं कि जो पदार्थ, धातु, अधातु द्रव का बोध करवाते हैं वह द्रव वाचक संज्ञा के अंतर्गत आते हैं। Dravyvachak Sangya में सभी पदार्थ को नापा और तोला जाता है। उदाहरण के लिए सोना, चांदी, हीरा, सब्जी, तेल, घी, पानी, कोयला आदि इन पदार्थों को हम गिन  नहीं सकते बल्कि तोल सकते हैं और नाप सकते हैं। 

Examples Of Dravyvachak Sangya In Hindi – द्रव्यवाचक संज्ञा के उदाहरण

मैं सोने की चेन लेना चाहता हूं

उदाहरण स्पष्टीकरण – इस वाक्य में आप देख सकते हैं कि सोने का जिक्र किया गया है सोने को हम गिन नहीं सकते बल्कि उनके तोल और नाप सकते हैं यह Dravyvachak Sangya का एक बड़ा उदाहरण है आईये और उदाहरण देखते हैं

  • फल हमारे शरीर के लिए पौष्टिक तत्व है
  • हमें दिन में 5 लीटर पानी पीना चाहिए
  • मोहन का बोलो बाजार से सब्जी लेकर आए
  • मेरा लैपटॉप टेबल पर रख दो
  • ठंड के मौसम में घी खाना अच्छा होता है
  • मैं सोने का कड़ा बनवाना चाहता हूं
  • लोहे में जंग लग जाता है
  • कोयले से अंगेठी जला सकते हैं
  • चाय में चीनी कम है। 

Conclusion : हमारे आसपास बहुत सी वस्तु ऐसे हैं जो Dravyvachak Sangya कर रूप लेकर बैठी है जैसे कोयला, सोना, फल, सब्जी, हीरा, घी, दाल यह द्रव वाचक संज्ञा के अंतर्गत आते हैं द्रव वाचक संज्ञा की सरल परिभाषा, उदाहरण स्पष्टीकरण के साथ यहां से पढ़ सकते हैं। 

FAQs About Dravyvachak Sangya In Hindi

Q1. द्रव वाचक संज्ञा क्या है ?

Ans : संज्ञा वह शब्द जो की तरल, धातु, अधातु या द्रव वस्तु का बोध करवाते हैं उन्हें द्रव वाचक संज्ञा कहते हैं। 

Q2. द्रव वाचक संज्ञा में कौन-कौन से शब्द आते हैं ?

Ans : द्रव वाचक संज्ञा में सोना, चांदी, पीतल, तांबा, ऑक्सीजन, पेट्रोल, पानी, दूध आदि शब्द आते हैं। 

Q3. द्रव वाचक संज्ञा गणीय होते हैं या अगणीय ?

Ans : द्रव वाचक संज्ञा अगणीय होते हैं इन्हें गिनती नहीं कर सकते नापा और तोला जा सकता है। 

Leave a Comment