Jativachak Sangya Kise Kahate Hain – जातिवाचक संज्ञा की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Jativachak Sangya In Hindi – आज हम संज्ञा के तीसरे भेद यानी कि Jativachak Sangya के बारे में पढ़ने वाले हैं। संज्ञा का Jativachak Sangya एक महत्वपूर्ण भेद है जो प्रतियोगिता परीक्षाओं में हमेशा आता है चलिए पढ़ते हैं Jativachak Sangya Kise Kahate Hain, Jativachak Sangya के कितने भेद होते हैं और यह किसी संज्ञा से विपरीत क्यों है। 

Definition Of Jativachak Sangya In Hindi – जातिवाचक संज्ञा परिभाषा

Jativachak Sangya के नाम से ही ज्ञात हो रहा है कि यह किसी जाति, वर्ग का बोध करवाते हैं संज्ञा के वह शब्द जो किसी विशेष वस्तु, स्थान, यह व्यक्ति की जाति का बोध करवाते उन्हें जातिवाचक संज्ञा कहते हैं। 

Jativachak Sangya में किसी व्यक्ति या वस्तु के वर्ग का पता चलता है जातिवाचक संज्ञा का अर्थ होता है कोई जाति, प्रजाति का बोध करवाना जो किसी विशेष जाति के बारे में बताता है वह जातिवाचक संज्ञा के अंतर्गत आता है। 

उदाहरण के लिए – प्राणियों के नाम लड़का, लड़की, कुत्ता, बिल्ला, बिल्ली, घोड़ा। 

स्थान के नाम – कार्यालय, स्कूल, संसद भवन, शहर, पहाड़ आदि

वस्तुओं के नाम – टेबल, कुर्सी, फर्नीचर, मोबाइल, मशीन आदि

ऊपर दिए गए सभी उदाहरण में आप देख सकते हैं कि वहां पर स्थान के नाम और वस्तुओं के नाम,  प्राणियों के नाम दिए गए हैं जिसमें किसी भी विशेष प्रकार से संपूर्ण बोध नहीं हो रहा यह जातिवाचक संज्ञा के अंतर्गत है। 

Examples Of Jativachak Sangya In Hindi – जातिवाचक संज्ञा के उदाहरण

जंगल में शेर रहता है। 

उदाहरण स्पष्टीकरण – इस ऊपर दिए हिंदी वाक्य में आप देख सकते हैं कि यहां पर एक पशु यानी की जंगली शेर की बात की जा रही है जो किसी विशेष प्रकार की जाति का बोध नहीं करती इसलिए इसे जातिवाचक संज्ञा कहते हैं 

  • लड़की ऑफिस जा रही है
  • महिला गली से जा रही है
  • बुजुर्ग दवाई लेने जा रहा है
  • बच्चे स्कूल जा रहे हैं
  • यह घर बहुत बड़ा है
  • सब्जी बहुत स्वादिष्ट बनी है
  • खाना ताजा बना है
  • यह फूल बहुत खूबसूरत है
  • यह सबसे ऊंचा पहाड़ है
  • झरना बह रहा है
  • सड़के बहुत लंबी है

Conclusion : Jativachak Sangya भाषा के शब्द और उनके अर्थ को स्पष्ट करने में मदद करते हैं वाक्य के उद्देश्य को समझने, उनका स्पष्ट करने में जातिवाचक संज्ञा की एक विशेष भूमिका है यहां पर आप जातिवाचक संज्ञा से जुड़े हुए सभी जानकारी पढ़ सकते हैं। 

FAQs About Jativachak Sangya In Hindi

Q1. जातिवाचक संज्ञा क्या है ?

Ans : संज्ञा के वह शब्द जो किसी व्यक्ति, वस्तु, स्थान का बोध ना करवा कर किसी संपूर्ण जाति का बोध कराते हैं उन्हें जातिवाचक संज्ञा कहते हैं। 

Q2. जातिवाचक संज्ञा की विशेषताएं क्या है ?

Ans : जातिवाचक संज्ञा भाषा को विस्तार और संगठित करता है तथा संवाद को सुगम बनाता है

Q3. जातिवाचक संज्ञा की पहचान क्या होती है ?

Ans : जब किसी वाक्य में संपूर्ण जाति का बोध हो, तो वह जातिवाचक संज्ञा की पहचान होती है। 

Leave a Comment