Raudra Ras Kise Kahate Hain – रौद्र रस की परिभाषा, भेद और उदाहरण

Hindi Grammar

Raudra Ras In Hindi रौद्र रस से संबंधित सभी जानकारी यहां सरल भाषा में बताई गई है Raudra Ras  किसे कहते हैं, Raudra Ras कितने प्रकार के होते हैं Raudra Ras उदाहरण सहित बताए गए हैं .रौद्र रस का उपयोग उन वाक्य में होता है

जहां पर क्रोध देखने को मिलता है। रुद्रा रस का स्थायी भाव “क्रोध” गुस्सा होता है चलिए Raudra Ras के बारे में इस पोस्ट “Raudra Ras In Hindi” पर जानते हैं

Definition Of Raudra Ras In Hindi – रौद्र रस परिभाषा

जिन काव्य रचना को पढ़कर क्रोध और गुस्से का आगमन होता है या कोई एक व्यक्ति जो दूसरे व्यक्ति पर अपना क्रोध दिखाता है जिससे पहले वाले व्यक्ति के अंदर क्रोध भाव उत्पन्न होते हैं उन्हें Raudra Ras कहते हैं।

सरल शब्दों में यदि कोई व्यक्ति आपको बहुत बुरा बोलता है या आपका अपमान करता है, बेज्जती करता है तो उसके लिए आपके अंदर क्रोध या गुस्सा आता है, वह Raudra Ras होता है। 

रौद्र रस के अवयव

  • स्थायी भाव – क्रोध, गुस्सा 
  • आलम्बन – अपमान करने वाला, देशद्रोही, गुरुद्रोही
  • उद्दीपन – दुश्मन द्वारा किया गया अपराध
  • अनुभाव – दांत दाबना, आँख लाल होना, होंठ फड़कना, 
  • संचारीभाव – जड़ता, गर्व, स्मृति

Examples Of Raudra Ras In Hindi – रौद्र रस के उदाहरण

1.गोपाल के सुन वचन, पार्थ गुस्से से जलने लगे ।

सब शोक अपना भूल कर, करतल युगल मलने लगे ।।

2. उस काल मानों गुस्से से, शरीर कापने उनका लगा।

मानो हवा के जोर से, सोता हुआ समुन्दर जगा ।।

3. सुनहूँ  राघव, जेहि भोलेनाथ तोरा सहसबाहु सम सो रिपु मोरा।

सो बिलगाउ बिहाइ समाजा न त मारे जइहें सब राजा

Conclusion : रौद्र रस का स्थायी भाव क्रोध होता है जिससे हृदय के अंदर क्रोध के भाव उत्पन्न होते हैं जिसमें व्यक्ति का मुंह लाल हो जाता है, दांत दबाना और हथियार चलाना विभाव होते है। 

FAQs About Raudra Ras In Hindi

Q1. रौद्र रस का क्या मतलब होता है ?

Ans : जहां कहीं भी क्रोध का वर्णन होता है वह रूद्र रस कहलाता है। 

Q2. रौद्र रस के अनुभाव क्या होते हैं ?

Ans : दांत दबाना, आंखें लाल हो जाना, जोर-जोर से बोलना आदि। 

Q3. रौद्र रस का स्थायी भाव क्या होता है ?

Ans : रौद्र रस का स्थायी भाव क्रोध, गुस्सा होता है। 

Leave a Comment