Vismyadibodhak Kise Kahate Hain – विस्मयादिबोधक अव्यय की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण

Hindi Grammar

Vismyadibodhak Avyay In Hindi – आज हम हिंदी ग्रामर के ऐसे विषय के बारे में बात करने वाले हैं जो शब्दों में भाव के उत्पादकता को दर्शाते हैं इस विषय का नाम है Vismyadibodhak Avyay आज यहां पर हम पढ़ेंगे Vismyadibodhak Kise Kahate Hain, Vismyadibodhak Avyay Kitne Prakar Ke Hote Hain और उनके नियम, विशेषताएं आदि क्या है। 

Definition Of Vismyadibodhak In Hindi – विस्मयादिबोधक अव्यय की परिभाषा

वाक्य में वह शब्द जिनसे यह पता चलता है कि उसे शब्दों में आश्चर्य, शौक और हर्ष वाले भाव उत्पन्न होते हैं उसे Vismyadibodhak अवयव कहते हैं। 

इन सभी वाक्य में अभी Vismyadibodhak चिन्ह का उपयोग किया जाता है जो आश्चर्य और हर्ष की ओर इशारा, संकेत करते हैं उदाहरण के लिए हे भगवान मेरी मदद करो आदि। 

Types Of Vismyadibodhak Avyay In Hindi विस्मयादिबोधक अव्यय के भेद

  • शोकबोधक   
  • तिरस्कारबोधक 
  • स्वीकृतिबोधक
  • विस्मयादिबोधक
  • संबोधनबोधक
  • हर्षबोधक
  • भयबोधक
  • आशीर्वादबोधक
  • अनुमोदनबोधक
  • विदासबोधक
  • विवशताबोधक

शोक बोधक : वाक्य में वह शब्द जिससे करुणा, दया, भाव और शोक वाले भाग की उत्पत्ति होती है उसे शोक बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – हे ईश्वर दया करो। 

तिरस्कार बोधक : जब किसी वाक्य में ऐसे शब्द का उपयोग होता है जिसमें अपमान वाले भाव उत्पन्न होते हैं जिसे तिरस्कार भी कहते हैं उन्हें तिरस्कार बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – हाय हाय तुम कितने गंदे हो। 

स्वीकृति बोधक : वह पद जिसमें किसी शब्द की मदद से अनुमति दी जाती है उसे स्वीकृति बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – अच्छा ! तो तुम यहां पर हो आदि। 

संबोधन बोधक : जब किसी वाक्य में हमें ऐसे शब्द पढ़ने को मिलते हैं जिसमें संबोधन प्राप्त होता है तो उसे संबोधन बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – हेलो आप कौन हैं। 

हर्ष बोधक : जब हिंदी पद में या वाक्य में ऐसे शब्द पाए जाते हैं जिसमें उत्साह वर्धन अवयव मौजूद होते हैं उन्हें हर्ष बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – शाबाश तुमने कर दिखाया। 

भय बोधक : जब किसी वाक्य में हमें ऐसे शब्द पढ़ने को मिलते हैं जिसमें भय या किसी प्रकार को कोई डर का भाव उत्पन्न होता है उन्हें भयबोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – बाप रे बाप जान बची तो लाखों पाए। 

आशीर्वाद बोधक : वाक्य के वह शब्द जिसमें किसी को सुख में रहने की यह आशीर्वाद देने की भावना को प्रकट किया जाता है उसे आशीर्वाद बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – जीते रहो, सदा सुहागन रहो, खुश रहो आदि। 

अनुमोदन बोधक : वाक्य के वह शब्द जिसमें अनुमोदन की भावना प्रकट हो उसे अनुमोदन बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए बहुत अच्छा, जरूर आदि। 

विदास बोधक : वाक्य के वह शब्द जिसमें विदाई वाली भावना प्रकट होती है इसमें दूर जाने का भाव होता है उसे विदास बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए – टाटा बाय-बाय आदि। 

विवशता बोधक : जिन वाक्यों में उन कार्यों को बारे में सोचा जाता है जो नहीं हुआ होता जो आशा वाले भाव आते हैं उन्हें विवशता बोधक कहते हैं उदाहरण के लिए -काश में करोड़पति बन जाऊं 

Conclusion : कुछ छात्रों का यह सवाल रहता है कि विस्मयादिबोधक पहचान कैसे करें वह हिंदी वाक्य में लज्जा , आश्चर्य, चेतावनी ,शोक, घृणा , विस्मय, को देख सकते हैं जो पहचान करवाते हैं कि यहां पर Vismyadibodhak Avyay की बात हो रही है। 

FAQs About Vismyadibodhak Avyay In Hindi

Q1.विस्मयादिबोधक क्या होते हैं ? 

Ans : जिन वाक्यों में हर्ष शोक और आश्चर्य वाले भाव प्रकट हो उसे विस्मयादिबोधक अवयव कहते हैं

Q2. विस्मयादिबोधक अवयव कितने प्रकार के होते हैं ?

Ans : विस्मयादिबोधक 10 प्रकार के होते हैं :

  • शोकबोधक   
  • तिरस्कारबोधक 
  • स्वीकृतिबोधक
  • विस्मयादिबोधक
  • संबोधनबोधक
  • हर्षबोधक
  • भयबोधक
  • आशीर्वादबोधक
  • अनुमोदनबोधक
  • विदासबोधक
  • विवशताबोधक

Q3. शोकबोधक अव्यय के उदाहरण बताइए ?

Ans : हे भगवान मुझे बचा लो, हे राम यह कैसे हो गया 

Leave a Comment