Prateep Alankar Kise Kahate Hain – प्रतीप अलंकार की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

 Prateep Alankar In Hindi – आज यहां पर हम जानेंगे Prateep Alankar Kise Kahate Hain, Prateep Alankar कितने प्रकार के होते हैं, उनकी विशेषताएं और पहचान क्या है। 

Prateep Alankar, अलंकार का एक भेद है जिससे संबंधित प्रश्न कॉम्पिटेटिव एक्जाम में हमेशा आते रहते हैं, कॉम्पिटेटिव एक्जाम की तैयारी करने वालों के लिए यह Prateep Alankar In Hindi पोस्ट उपयोगी है। 

Definition Of Prateep Alankar In Hindi – प्रतीप अलंकार की परिभाषा

Prateep Alankar में प्रतीप का अर्थ होता है उल्टा या विपरीत। Prateep Alankar में जब सीधे को उल्टा और उल्टे को सीधा बता दिया जाता है तो वह Prateep Alankar  कहलाता है। Parteep Alankar का अर्थ होता है विपरीत या उल्टा। Prateep Alankar में उपमेय को उपमान मान लिया जाता है और उपमान को

उपमेय मान लेते हैं। ऐसे अलंकार को Parteep Alankar कहते हैं Parteep Alankar काव्य रचनाओं में उपमान को निचा, छोटा और लिजित किया जाता है।  

Types Of Prateep Alankar In Hindi – प्रतीप अलंकार के भेद हैं 

प्रतीप अलंकार के पांच भेद होते हैं :

  1. प्रथम प्रतीप
  2. द्वितीय प्रतीप
  3. तृतीय प्रतीप
  4. चतुर्थ प्रतीप
  5. पंचम प्रतीप

प्रथम प्रतीप – वह अलंकार जिसमें एक प्रसिद्ध उपमान को अपने रूप में दर्शाया जाता है उसे प्रथम प्रतीप कहते है। 

द्वितीय प्रतीप – वह अलंकार जिसमें प्रसिद्ध उपमान को उपमेय बनाकर, वास्तविक उपमेय को लिजित किया जाता है वह द्वितीय प्रतीप कहलाता है। 

तृतीय प्रतीप – वह अलंकार जहां पर प्रसिद्ध उपमान को उपमेय के आगे निरादर किया जाता है वह तृतीय प्रतीप होता है।

चतुर्थ प्रतीप – जिस अलंकार में उपमेय की तुलना में उपमान तुल्य नहीं हो पाता, वह चतुर्थ प्रतीप कहलाता है। 

पंचम प्रतीप – वह अलंकार जिसमें उपमेय की क्षमता व्यर्थ हो जाती है उसकी योग्यता और महत्त्व ना के बराबर होती है उसे पंचम प्रतीप कहते हैं। 

Examples Of Prateep Alankar In Hindi – प्रतीप अलंकार के उदाहरण

1.यह मुँह तो चाँद से भी अधिक खूबसूरत है।’

2. ’संध्या फूली परम श्रिया की कांति सी है दिखाती।’’

3. भूपति भवन सुभायँ सुहावा ।

सुरपति सरनु न पटतर आवा।।

Conclusion : Parteep Alankar को विस्तार से समझने के लिए आप यह पूरा पोस्ट Parteep Alankar In Hindi को पढ़ सकते हैं जहां पर Parteep Alankar Ki Paribhasha, Parteep Alankar Ke Bhed स्पष्टीकरण के साथ मौजूद हैं। 

FAQs About Prateep Alankar In Hindi

Q1. प्रतीप अलंकार क्या होते हैं ?

Ans : वह अलंकार जिसमें उपमेय को उपमान और उपमान को उपमेय का रूप माना जाता है वह प्रतीप अलंकार होता है। 

Q2. प्रतीप अलंकार की पहचान क्या होती है ?

Ans : प्रतीप अलंकार में उपमान को लज्जित किया जाता है, छोटा दिखाया जाता है यह प्रतीप अलंकार की पहचान है। 

Q3. प्रतीप अलंकार का उदाहरण बताइए ?

Ans : बहुरि विचार कीन्ह मन मांही

सिय बदन सम, हिमकर ना ही।’

Leave a Comment