Vriddhi Swar Sandhi Kise Kahate Hain – वृद्धि स्वर सन्धि की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Vriddhi Swar Sandhi In Hindi – आज हम यहां पर Vriddhi Swar Sandhi के बारे में बताने वाले हैं जो छात्र पढ़ना चाहते हैं की Vriddhi Swar Sandhi क्या होते हैं वह इस पेज जिसका नाम है Vriddhi Swar Sandhi In Hindi पर जान सकते हैं कि Vriddhi Swar Sandhi Kise Kahate Hain, Vriddhi Swar Ke Kitne Bhed Hote Hain और उनके नियम क्या है

Definition Of Vriddhi Swar Sandhi In Hindi – वृद्धि स्वर सन्धि की परिभाषा

जब संधि करते है स्वर के अक्षर जैसे अ, आ  के साथ  , ऐ  होता और इससे ‘ऐ‘ स्वर बनता है उसे Vriddhi Swar Sandhi कहते हैं या का मेल होने से वह के रूप में बदल जाता है। उसे ही Vriddhi Swar Sandhi कहा गया हैं।

सरल भाषा में आप इसे ऐसे समझ सकते हैं हेमा मालिनी दो शब्दों से मिलकर बना है हेमा और मालिनी इस पद का पहला शब्द हेमा और शब्द का अंतिम अक्षर म है म अक्षर के साथ अ अक्षर मिलकर एक शब्द बन रहा है इसमें ए की मात्रा लगती है इसलिए हेमा मालिनी शब्द बनता है। 

Examples Of Vriddhi Swar Sandhi In Hindi – वृद्धि स्वर सन्धि के उदाहरण

महा + ओजस्वीमहौजस्वीआ + ओ = औ
परम + औषधपरमौषधअ + औ = औ
तत + एवततैवअ + ए = ऐ
मत + एक्यमतैक्यअ + ए = ऐ
एक + एकएकैकअ + ए = ऐ
जल + ओघजलौघअ + ओ = औ

यदि कोई छात्र है जो स्कूल में पढ़ाई कर रहा है या किसी कॉम्पिटेटिव एक्जाम की तैयारी कर रहा है उन्हें यह पोस्ट जरूर पढ़नी चाहिए क्योंकि यह ऐसे विषय है जो कॉम्पिटेटिव एक्जाम में आते रहते हैं। 

FAQs About Vriddhi Swar Sandhi In Hindi

Q1. वृद्धि स्वर सन्धि क्या होते हैं ?

Ans : जब अक्षर के साथ ऐ साथ आए तो इस प्रकार जो शब्द बनते हैं उन्हें वृद्धि शब्द स्वर संधि कहते हैं। 

Q2. वृद्धि स्वर सन्धि में संधि विच्छेद क्या होते हैं ?

Ans : जब कोई वृद्धि स्वर संधि बनता है तो उसमें संधि विच्छेद का जोड़ होता है उसके बाद कोई संधि का शब्द बनता है। 

Q3. वृद्धि स्वर सन्धि के उदाहरण बताइए ?

Ans : परम + औदार्य – परमौदार्य – अ + औ = औ

Leave a Comment