Varnik Vritt Chhand Kise Kahate Hain – वार्णिक वृत्त छन्द की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Varnik Vritt Chhand In Hindi – हिंदी व्याकरण में आपने वार्णिक छन्द विषय के बारे में तो जरूर पढ़ा होगा। वर्णिक छंद, Varnik Vritt Chhand का एक रूप है जिसके बारे में इस पेज “Varnik Vritt Chhand In Hindi” पर Varnik Vritt Chhand के बारे में विस्तार से वर्णन करने वाले हैं जो छात्राओं के स्कूल और प्रतियोगी परीक्षाओं में काम आ सकते हैं। 

Definition Of Varnik Vritt Chhand In Hindi – वार्णिक वृत्त छन्द परिभाषा

Varnik Vritt Chhand, वार्णिक छन्द का एक स्वरूप है वार्णिक वृत्त छन्द हैं जिसमें चार चरण एक समान होते हैं। वार्णिक वृत्त छन्द में आने वाले हर एक चरण में लघु और गुरु स्वर को सुनिश्चित किया जाता है। वार्णिक वृत्त छन्द में चार चरण एक समान होते हैं जो की Varnik Vritt Chhand का एक गुण भी है। 

Examples Of Varnik Vritt Chhand In Hindi – वार्णिक वृत्त छन्द के उदाहरण

इंद्रवज्रा, उपेंद्रवज्रा, मालिनी, मत्तगयंद, द्रुत विलम्बित, आदि।

7 भगण और 2 गुरु का ‘मत्तगयन्द सवैया’ 

मगण, यगण, रगण, सगण, तगण

ऽ।। ऽ।। ऽ।। ऽ।।

या लकुटी अरु कामरि या पर भगण भगण भगण गग

ऽ।। ऽ।। ऽ।। ऽऽ

राज तिहूँ पुर को तजि डारौं 

कुल 7 भगण + 2 गुरु = 23 वर्ण

Conclusion : जिन छात्रों को यह कन्फ्यूजन रहती है कि वार्णिक छन्द और Varnik Vritt Chhand एक ही है उन्हें यह पोस्ट “Varnik Vritt Chhand In Hindi” जरूर पढ़ना चाहिए ताकि वह दोनों के अंतर् को जान सके और प्रतियोगिकी परीक्षा में गलती ना करें। 

FAQs About Varnik Vritt Chhand In Hindi

Q1. वार्णिक वृत्त छन्द क्या होते हैं ? 

Ans : वार्णिक वृत्त छन्द में चार चरण एक समान होते हैं और हर एक चरणों में लघु और गुरु स्वर को सुनिश्चित किया जाता है उन्हें ही वार्णिक वृत्त छन्द कहते हैं। 

Q2. वार्णिक वृत्त छन्द मैं कौन से स्वर निर्धारित होते हैं ?

Ans : लघु और गुरु स्वर

Q3.वर्णिक वृत्त छंद कितने चरण एक समान होते हैं ?

Ans : वर्णिक वृत्त छंद में चार चरण एक समान होते हैं। 

Leave a Comment