Gitika Chhand Kise Kahate Hain – गीतिका छंद की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Gitika Chhand In Hindiगीतिका छंद किसे कहते हैं, Gitika Chhand कितने प्रकार के होते हैं और उनके उदाहरण क्या है। इस पेज के माध्यम से जिसका नाम है “Gitika Chhand In Hindi” पर हम सरल शब्दों में जानेंगे।  Chhand एक ऐसा विषय है जो परीक्षाओं में हमें सबसे अधिक देखने को मिलता रहता है इसलिए छात्रों को Gitika Chhand विषय के ऊपर जानकारी होनी चाहिए। 

Definition Of Gitika Chhand In Hindi – गीतिका छंद की परिभाषा

Gitika Chhand में कुल 26 मात्राएं होती है Gitika Chhand, मात्रिक छंद होते हैं कई लोग Gitika Chhand और मात्रिक छंद को एक समान मानते हैं लेकिन ऐसा नहीं है इन दोनों में थोड़ा अंतर है गीतिका छंद में चार चरण होते हैं सभी चरणों में 14 और 12 क्रम में मात्रा विभाज्य होती है। अंत में गीतिका छंद में लघु और गुरु स्वर होते हैं। 

Examples Of Gitika Chhand In Hindi – गीतिका छंद के उदाहरण

हे ईश्वर आनंद दाता ज्ञान हमको दीजिये।

तुरंत सारे दुर्गुणों को दूर हमसे कीजिये।

लीजिए हमको शरण में, हम सदाचारी बने।

ब्रह्मचारी, धर्मरक्षक वीर व्रतधारी हम बनें।

Conclusion : Gitika Chhand एक मात्रिक छंद होता है गीतिका के आखिरी चरणों में लघु और गुरु स्वर का होना अनिवार्य होता है। 

FAQs About Gitika Chhand In Hindi

Q1. गीतिका छंद क्या होते हैं ?

Ans : गीतिका छंद, मात्रिक छंद होते हैं इनको हर चरणों में कुल 26 मात्राएं होती है जब दो भागों में विभाजित होती है। 

Q2. गीतिका छंद  में दो स्वर कौन से होते हैं ? 

Ans : गीतिका छंद के आखिरी चरण में लघु और गुरु स्वर होते हैं। 

Q3. गीतिका छंद में मात्राएं किन क्रम में विभाजित होती है ?

Ans : गीतिका छंद में कुल 26 मात्राएं होती है जो 14 और 12 के क्रम में विभाजित होती है। 

Leave a Comment