Barvai Chhand Kise Kahate Hain – बरवै छंद की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Barvai Chhand In Hindi – छोटी कक्षाओं में आपने Barvai Chhand के बारे में स्कूल में जरूर पढ़ा होगा। इस पोस्ट Barvai Chhand In Hindi पर Barvai Chhand विषय को लेकर विस्तार से वर्णन कर रहे हैं यदि आप जानना चाहते हैं Barvai Chhand Kise Kahate Hain, Barvai Chhand कितने प्रकार के होते हैं तो अंत तक इस पोस्ट को पढ़ सकते हो, जो आपको प्रतियोगी परीक्षा में भी काम आ सकती है। 

Definition Of Barvai Chhand In Hindi – बरवै छंद  की परिभाषा

Barvai Chhand एक अर्द्धसममात्रिक छंद होता है Barvai Chhand में चार चरण होते हैं इसके प्रत्येक चरण के पहले और तीसरे चरण में 12 – 12 मात्राएं होती है और दूसरे – चौथे चरण में 7 – 7 मात्राएं होती है

Barvai Chhand का उपयोग हिंदी ग्रंथ रामायण में बहुत ही सुंदर तरीके से पेश किया गया है Barvai Chhand को और गहराई से समझने के लिए आप हिंदी ग्रंथ का सहारा ले सकते हैं। 

Examples Of Barvai Chhand In Hindi – बरवै छंद के उदाहरण

1.सुनके गाना मधुर,बनो निरोग।

सौंदर्य बढ़ाए वय,करो प्रयोग।।

2. बोलो शब्द तोलकर,बनो सुजान।

वापिस तीर न आए,छुटा कमान।।

3. चम्पक हरवा अंग मिलि,अधिक सुहाय।

जानि परै सिय हियरे ,जब कुंभिलाय।।

Conclusion : Barvai Chhand के दूसरे और चौथे चरण में जगण और तगण जाकर इन्हें सुरीला बना देते हैं, Barvai Chhand एक सुंदर छंद माना गया है लेकिन प्राचीन युग के अलावा आज के आधुनिक युग में इसका बहुत कम उपयोग किया जाता है। 

FAQs About Barvai Chhand In Hindi

Q1. बरवै छंद का क्या मतलब होता है

Ans :बरवै छंद एक अर्द्धसममात्रिक छंद है जिसमें मात्राएं 12-12 और 7 – 7 के क्रम में होती है, अंत में लघु और दीर्घ होते हैं। 

Q2. बरवै छंद में कुल कितनी मात्राएं होती है ?

Ans : बरवै छंद में कुल 19 मात्राएं होती है जिसमें 12 और 7 यति विराम होते हैं

Q3. बरवै छंद किस व्यक्तिगत भाषा का छंद है ?

Ans : बरवै छंद अवधी भाषा व्यक्तिगत छंद है। 

Leave a Comment