Purvkalik Kriya Kise Kahate Hain – पूर्वकालिक क्रिया की परिभाषा, भेद और उदाहरण 

Hindi Grammar

Purvkalik Kriya In Hindi – बहुत से छात्र क्रिया विषय के बारे में तो जरुर जानते होंगे लेकिन उनके भेद के बारे में अधिकतर छात्र याद नहीं रख पाते, उनके लिए यहां पर क्रिया के भेद जिसका नाम है Purvkalik Kriya जिसके बारे में आज हम यहां पढ़ने वाले हैं। 

Purvkalik Kriya Kise Kahate Hain, Purvkalik Kriya के कितने भेद होते हैं उनकी पहचान कैसे होती है चलिए पढ़ते हैं। 

Definition Of Purvkalik Kriya In Hindi – पूर्वकालिक क्रिया की परिभाषा

Purvkalik Kriya वह क्रिया होता है जिसमें दो क्रियाएं प्रयुक्त होती है यानी की जिसमें दो क्रियाएं मौजूद होती हैं उन क्रियो में से जो पहले क्रिया होती है वह दूसरी क्रिया होने से पहले ही पूरी हो जाती है उन्हें Purvkalik Kriya कहते हैं। 

यह एक ऐसी क्रिया होती है जिस पर पुरुष, वचन, लिंग, काल का कोई प्रभाव नहीं पड़ता ऐसी क्रिया को Purvkalik Kriya कहते हैं क्योंकि यह दूसरी क्रिया शुरू होने से पहले ही पूरी हो जाती है। 

तात्कालिक क्रिया किसे कहते हैं ?

Purvkalik Kriya का एक और रूप होता है जिसे तात्कालिक क्रिया कहते हैं तात्कालिक क्रिया में जो पहले क्रिया होती है उसके खत्म होने के बाद ही दूसरी क्रिया शुरू हो जाती है उसी को तात्कालिक क्रिया कहते हैं क्योंकि यह तत्काल में शुरू होती है इसलिए इसे तात्कालिक क्रिया कहा गया है। 

तात्कालिक क्रिया के उदाहरण

  • मेरे पानी पिटे ही सोनू आ गया।
  • श्याम दवाई खाते ही सो गया।
  • राहुल के जाते ही रोहित उठ गया।
  • अविनाश के आते ही नितीश चला गया।
  • बच्चे कहानी सुनकर जायेंगे। 
  • सीता ने अपने ऑफिस पहुंच कर खाना खाया।
  • रौनक जूस पीकर चला गया।
  • वे कहकर चले गये।
  • मैं कार से जाउँगा।

Examples Of Purvkalik Kriya In Hindi – पूर्वकालिक क्रिया के उदाहरण

  • रानी सब्जी बनाकर स्कूल गई।
  • अमन नाश्ता खाकर शहर गया।
  • राधा नहाकर बाजार जाएगी ।
  • विराट क्रिकेट खेलकर घूमने गया ।
  • महेश बाजार जाकर खाना लाया।

Conclusion : Purvkalik Kriya का मतलब होता है पहले से किया हुआ। जब दो क्रियाएं एक साथ हो और पहले क्रिया पहले संपन्न हो जाए और दूसरी क्रिया उसके बाद शुरू हो वह Purvkalik Kriya के अंतर्गत आता है इसका काल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता यह इसकी पहचान भी है

FAQs About ‎Purvkalik Kriya In Hindi

Q1. पूर्वकालिक क्रिया क्या होती है ?

Ans : जब कोई कर्ता पहले क्रिया को समाप्त करके दूसरी क्रिया में परिवर्तित हो जाता है तो पहले क्रिया को पूर्वकालिक क्रिया कहते हैं। 

Q2. पूर्वकालिक क्रिया की पहचान क्या होती है ?

Ans : जिस वाक्य में दो वाक्य हो और दूसरा वाक्य पहले वाक्य के संपन्न होने के बाद शुरू होता है वह पूर्वकालिक क्रिया की पहचान होती है

Q3. पूर्वकालिक क्रिया का दूसरा रूप कौन सा होता है ?

Ans : पूर्वकालिक क्रिया का दूसरा नाम तात्कालिक क्रिया है जो पूर्वकालिक क्रिया का सामान्य रूप भी है। 

Leave a Comment